कानपुर : इस सर्दी फिर दिख सकते लालइमली के उत्पाद

कानपुर संवाददाता: बीआईसी कर्मियों की टीम भावना, अधिकारियों की इच्छा शक्ति और सरकार का सहयोग बना रहा तो दो साल से बिना उत्पादन रेंग रही लालइमली के उत्पाद सर्दियों में बाजार में दिख सकते हैं। इसके साथ ही बीआईसी की किसी एक मिल को चलाने की दिशा में सकारात्मक पहल हो सकती है।

home-picये संकेत बीआईसी चेयरमैन का अतिरिक्त प्रभार ग्रहण करने के बाद पहली बार मुख्यालय में आए कपड़ा मंत्रालय में द हैंडीक्राफ्ट एंड हैंडलूम एक्सपो‌र्ट्स कारपोरेशन आफ इंडिया लिमिटेड के चेयरमैन निर्मल सिन्हा ने अधिकारियों और कर्मचारियों से बातचीत में दिए। 1998 तक एल्गिन मिल से जुड़े रहे श्री सिन्हा का मानना है कि 18 मार्च को दिल्ली में कपड़ा मंत्री संतोष गंगवार, कपड़ा सचिव संजय कुमार पांडा, सांसद डॉ. मुरली मनोहर जोशी और कपड़ा मंत्रालय के अधिकारियों के बीच हुई वार्ता के बाद से मिल को पूरी ताकत से चलाने की संभावनाएं तलाशी जा रही हैं। उन्होंने माना कि मिल में फिर से उत्पादन शुरू करने के लिए तीन स्तरों पर काम हो सकता है। पहला 2011 में बनाये गये रिवाइवल प्लान जिसे कैबिनेट भी पास कर चुकी है, को लागू किया जाए किंतु उसमें जमीन बेचने की शर्तो के चलते शीघ्रता की उम्मीद कम है। दूसरे पीपीपी मॉडल पर मिल को चलाने के लिए कोई एजेंसी तलाशी जाए जो यहां के कर्मचारियों को भी न निकाले, उनके बकाया और वेतन समय से देने के साथ उत्पादन शुरू करे। तीसरा रास्ता ‘बैक टू बैक’ सिस्टम के तहत ट्रेडिंग के जरिए काम शुरू किया जाए और क्वालिटी कंट्रोल से लेकर बाजार में बिक्री तक का काम अपने पास रखा जाए लेकिन सब कुछ पारदर्शी हो।

सचिव के रूप में बीआईसी से लंबे समय तक जुड़े रहे चेयरमैन सिन्हा का मानना है कि कर्मचारियों और अधिकारियों की इच्छा शक्ति और सरकार की सकारात्मक मंशा के चलते उम्मीद की जा सकती है कि इस साल सर्दियों के मौसम में बाजार में लाल इमली की प्रसिद्ध 60 नंबर लोई, बैरक कंबल, ब्लेजर, तोप से गोला दागने में इस्तेमाल होने वाला कपड़ा जैसे उत्पाद फिर से बाजार में दिखेंगे। उनसे मिलने वालों में लाल इमली के महाप्रबंधक राजा मित्रा, प्रबंधक (प्रशासन) एसके उपाध्यक्ष, सचिव केसी वाजपेयी, रवीन्द्र सिंह गौर, बीआर भदौरिया के अलावा श्रमिक पक्ष से राजू ठाकुर, बीएम त्रिपाठी, राधेश्याम, फारुख, राकेश श्रीवास्तव, वीरेन्द्र दुबे आदि रहे।


 

Advertisements