चावल के दाम गिरे, दाल फिर रुला रही

कानपुर विदेशी दालों की आवक कम होने से दाल के दामों ने फिर तेजी की उड़ान भरी है। दाल व्यापारी विनोद गुप्ता ने कहा कि नई फसल आने के बाद ही दाम पूरी तरह से सामान्य होंगे। चावल बाजार की हालत दालों के मुकाबले उल्टी है। व्यापारी आशीष मिश्र ने कहा कि चावल एक्सपोर्ट न होने के कारण मई से चावल के दाम आधे हो गए हैं। मांग न होने और दाम भी काफी कम होने से व्यापारियों के माथे पर पसीना आ रहा हैं।

आढ़ती राजेश मिश्र ने कहा कि कोल्ड स्टोरेज का आलू चकरपुरमंडी आने से थोक में इसके दाम 2 से 4 रुपए प्रति किलो हैं। लेकिन फुटकर में यह 12 से 15 रुपए के बीच बिक रहा है। फुटकर व्यापारी भी ग्राहकों से खूब मुनाफा कमा रहे हैं। वहीं प्याज की आवक कम होने के कारण इसके दाम काफी ज्यादा हैं। एक पखवारे में इसके दाम कम हो जाएंगे। दूसरी तरफ सब्जियों की आवक कम होने के चलते ये भी थाली से इतरा कर चल रही हैं। व्यापारियों की मानें तो इसके दाम जुलाई आखिरी तक कम होने की उम्मीद है।

नयागंज के बड़े कारोबारियों की सूची बुधवार को मण्डी समिति पहुंच गई है। उन्होंने कहा कि सभी व्यापारियों को जिंसों के आधार पर नोटिस भेजी जाएगी। मण्डी सचिव संतोष यादव ने यह जानकारी दी।

Advertisements