सस्‍ता हो जाएगा टीवी सेट टॉप बॉक्‍स

जी हां देश में अब घरेलू सेट टॉप बॉक्‍सेस बहुत ही सस्‍ते दाम में मिलेगे। घरेलू विनिर्माताओं को सशर्त पहुंच प्रणाली यानी कैस के लिए देश में ही विकसित समाधान उपलब्‍ध कराए जाने कि वजह से यह संभव हो रहा है।
सस्‍ते में मिलेगा घरेलू कैस लाइसेंससंचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक डेवलपर भारतीय कैस को सभी घरेलू सेट टॉप बॉक्‍स विनिर्माताओं एवं परीचालकों को 0.5 डॉलर प्रति लाइसेंस या 32 रुपये की कीमत पर उपलब्‍ध कराएंगे। जिसकी वजह से सभी घरेलू सेट टॉप बॉक्‍स सस्‍ते होंगे। देसी कैस यानी कंडीशनल ऐक्‍सिस सिस्‍टम का विकास सरकारी संस्‍था सी-डैक ने बेंगलूरू की कंपनी बायडिजाइन के साथ मिलकर किया हैं। बताते चलते है कि भारत में सेट टॉप बॉक्‍स की औसत लागत 800 से 1,200 रुपये तक आती है।
29.99 करोड़ की लगेगी लागतसंचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अधिकारी ने यह सूचित किया की इस परीयोजना में करीब 29.99 करोड़ का खर्चा आएगा जिसमें 19.79 करोड़ रुपये का योगदान इलेक्‍ट्रॉनिकस एवं सूचना प्रौघोगिकी विभाग करेगी और शेष राशि बायडिजाइन भरेगी। उन्‍होंने बताया की इस परियोजना पर कार्य जल्‍द ही शुरू होगा।
set-top-boxसस्‍ते में मिलेगा घरेलू कैस लाइसेंस
संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के एक अधिकारी के मुताबिक डेवलपर भारतीय कैस को सभी घरेलू सेट टॉप बॉक्‍स विनिर्माताओं एवं परीचालकों को 0.5 डॉलर प्रति लाइसेंस या 32 रुपये की कीमत पर उपलब्‍ध कराएंगे। जिसकी वजह से सभी घरेलू सेट टॉप बॉक्‍स सस्‍ते होंगे। देसी कैस यानी कंडीशनल ऐक्‍सिस सिस्‍टम का विकास सरकारी संस्‍था सी-डैक ने बेंगलूरू की कंपनी बायडिजाइन के साथ मिलकर किया हैं। बताते चलते है कि भारत में सेट टॉप बॉक्‍स की औसत लागत 800 से 1,200 रुपये तक आती है।
29.99 करोड़ की लगेगी लागत
संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय के अधिकारी ने यह सूचित किया की इस परीयोजना में करीब 29.99 करोड़ का खर्चा आएगा जिसमें 19.79 करोड़ रुपये का योगदान इलेक्‍ट्रॉनिकस एवं सूचना प्रौघोगिकी विभाग करेगी और शेष राशि बायडिजाइन भरेगी। उन्‍होंने बताया की इस परियोजना पर कार्य जल्‍द ही शुरू होगा।

Advertisements