केस्को, जलकल, नगर निगम का बढ़ा कारोबार -फीकी पड़ गई सोने और चांदी की चमक

d71576724कानपुर। नगर निगम के सभी जोन कार्यालयों में गृहकर जमा करने की सुविधा लगातार जारी है। अब कैश कलेक्शन बढ़ने से रात 12 बजे तक कर्मचारी नोटों की गिनती और इंट्री में लगे हैं। अब सभी जोनों में कर्मचारियों की संख्या बढ़ा दी गई है। रविवार को नगर निगम जोन कार्यालयों के साथ कर्मचारियों को जगह-जगह कैम्प लगाकर भी गृहकर जमा करने की सुविधा देगा। नगर निगम मुख्यालय में सचिन. शैलेन्द्र,मयंक और अश्विनी सुबह से आठ से रात 11 बजे तक काम कर रहे हैं। सचिन ने बताया कि 11 और 12 नवम्बर को तो कार्यालय में ही रूकना पड़ा था।

 

d71575816कानपुर। नोटबंदी से जलकल विभाग को सबसे ज्यादा फायदा हुआ है। रिकॉर्ड राजस्व में वृद्धि से पूरा विभाग गदगद है। सात दिन से कैश काउंटर और लेखा विभाग को 15-15 घंटे काम करना पड़ रहा है। विभाग को 1000 और 500 के नोट एक दिन में बंद होने की जानकारी पर बीते शुक्रवार (11 नवम्बर ) को दिन से लेकर रात काम करना पड़ा था। एक दिन में जलकल के इतिहास में 2.60 करोड़ रुपए सीवर-वॉटर टैक्स के आए थे। जलकल ने 24 नवम्बर तक कर्मचारियों की छुट्टियां रद कर दी हैं। विभाग ने एडवांस टैक्स जमा करने की सुविधा देने का सुझाव दिया है।

 

d71574000केस्को की लगी लॉटरी, आया 85 करोड़

कानपुर। एक हजार और पांच सौ रुपए की नोट बंदी का सबसे ज्यादा फायदा सरकारी विभागों में केस्को ने उठाया है। केस्को अफसरों ने 11 से लेकर 19 नवंबर तक 85 करोड़ रुपए बिजली बिल के लिए वसूले हैं। बिजली का बिल जमा करने के लिए शहरवासियों में होड़ मची हुई है। केस्को अफसरों ने भी फायदा उठाते हुए वसूली बढ़ाने के लिए रात-दिन मेहनत की है। केस्को के कैश काउंटर रात 12 बजे तक खोले गए है। केस्को मीडिया प्रभारी अजय आनंद ने बताया कि 24 नवंबर तक बढ़ाए गए समय को देखते हुए केस्को अफसर बिल जमा कराने और बकाएदारी लाने में जुट हुए हैं।

d71592860

%e0%a4%ab%e0%a5%80%e0%a4%95%e0%a5%80-%e0%a4%aa%e0%a4%a1%e0%a4%bc-%e0%a4%97%e0%a4%88-%e0%a4%b8%e0%a5%8b%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%94%e0%a4%b0-%e0%a4%9a%e0%a4%be%e0%a4%82%e0%a4%a6%e0%a5%80-%e0%a4%95

Advertisements