डॉलर के मुकाबले अब तक के सबसे निचले स्तर पर पहुंचा रुपया

rupees-fall-to-record-low-against-dollarमुंबई। नोटबंदी के बीच कारोबार की दुनिया से बुरी खबर है। आज यानि गुरुवार को रुपया डॉलर के मुकाबले 30 पैसा टूटकर 68.86 प्रति डॉलर पर आ गया। विदेशी पूंजी की सतत निकासी से रुपया प्रभावित हुआ है।
अमेरिका के निर्वाचित राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप द्वारा संरक्षणवादी उपाय किए जाने की संभावना के बीच निवेशकों में डॉलर का आकषर्ण बढ़ रहा है।

शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में गिरावट

वहीं नोटबंदी की वजह से भी निवेशक सतर्क बने हुए हैं। अमेरिकी प्रतिभूतियों पर प्राप्तियां बढ़ने से भी रुपये पर असर हुआ। इसके अलावा इस समय डॉलर ज्यादातर विदेशी बाजार में अन्य मुद्राओं की तुलना में ऊपर चल रहा है।

इससे पहले 28 अगस्त, 2013 को रुपये ने अपने दिन के सर्वकालिक निचले स्तर 68.85 को छुआ था और यह 68.80 प्रति डॉलर पर बंद हुआ।

नोटबंदी इफेक्ट : मकानों की कीमत 30 फीसदी तक होगी कम !

201611241936204093_demonetisation-affects-housing-prices-drop-up-to-30_secvpfनई दिल्ली। नोटबंदी का असर रीयल एस्टेट पर व्यापक तौर पर देखा जा सकता है। प्रोपइक्विटी का मानना है कि नोटबंदी के चलते आने वाले 6-12 महीने में 42 प्रमुख शहरों में मकानों की कीमत 30 प्रतिशत तक घट सकती है।
फर्म का कहना है कि इससे 2008 के बाद डेवल्परों द्वारा बेची गई व अनबिकी आवासीय संपत्तियों का बाजार मूल्य 8 लाख करोड़ रुपये से भी अधिक घट जाएगा।

बयान में कहा गया है कि भारतीय जमीन जायदाद क्षेत्र पर नोटबंदी के असर के कारण अवासीय संपत्तियों का बाजार मूल्य अगले 6-12 महीने में 8,02,874 करोड़ रुपये घट जाएगा।

भारत पर बौखलाया पाकिस्तान, कहा- वॉर का जवाब देने के लिए तैयार

इसके अनुसार मकान कीमतों में गिरावट का सबसे अधिक असर मुंबई उसके बाद बेंगलुरू व गुड़गांव पर होगा।

Advertisements