सब्जी कारोबार पर भारी अधूरी तैयारी

कानपुर दक्षिण संवाददाता : नोटबंदी की मार फल व सब्जी कारोबार पर पड़ रही है। बाजार में डिमांड के साथ ही नकदी का संकट है। ग्राहक बड़े नोट लेकर खरीदारी करने आ रहा है। व्यापार रेजगारी और उधारी से चल रहा है। दूसरे प्रदेशों में आवक न के बराबर हो गई है। फल व सब्जी कारोबारियों ने भ्रष्टाचार के खात्मे के लिए नोटबंदी के फैसले को सही ठहराया है, लेकिन आधी अधूरी तैयारी से कारोबार में आई गिरावट का दर्द भी है। नोटबंदी के फैसले के बाद पहले दो-तीन दिनों तक चकरपुर मंडी, नौबस्ता, किदवई नगर, बादशाहीनाका समेत अन्य सब्जी व फल मंडियों पर कोई खासा प्रभाव नहीं पड़ा। फल और सब्जी के आढ़तियों व विक्रेताओं ने पूर्व की भांति कारोबार जारी रखा। पुराने नोटों के सहारे कश्मीर, पंजाब, महाराष्ट्र समेत अन्य प्रदेशों से माल आया और भेजा गया। धीरे धीरे बाजार में नकदी का संकट छा गया।d4640

%e0%a4%9c%e0%a5%80%e0%a4%b5%e0%a4%82%e0%a4%a4-%e0%a4%b9%e0%a5%81%e0%a4%88-%e0%a4%a6%e0%a4%b6%e0%a4%95%e0%a5%8b%e0%a4%82-%e0%a4%aa%e0%a5%81%e0%a4%b0%e0%a4%be%e0%a4%a8%e0%a5%80-%e0%a4%a4%e0%a4%b8

Advertisements