कमजोर मांग से सोना 275 रुपये लुढ़का, चांदी भी 525 रुपये टूटी

ू

स्थानीय आभूषण विक्रेताओं की सुस्त मांग के बीच विदेशों में कमजोरी के रुख को देखते हुए दिल्ली सार्राफा बाजार में शुक्रवार को सोना 275 रुपये लुढ़ककर 30,275 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया। औद्योगिक इकाइयों और सिक्का निमार्ताओं का उठाव कमजोर रहने से चांदी भी 525 रुपये टूटकर 40,000 रुपये के स्तर से नीचे गिरकर 39,925 रुपये प्रति किलोग्राम रह गई।

बाजार सूत्रों ने कहा कि यूरोपीय सेन्ट्रल बैंक द्वारा अपने बांड खरीद कार्यक्रम का विस्तार करने से विश्व की प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के मजबूत होने से नरमी का रुख रहा जिससे यहां कारोबारी धारणा सुस्त पड़ गई। वैश्विक स्तर पर सिंगापुर में सोना 0.04 प्रतिशत की गिरावट के साथ 1,265.70 डॉलर प्रति औंस और चांदी 0.42 प्रतिशत की गिरावट के साथ 16.70 डॉलर प्रति औंस रह गया।

उन्होंने कहा कि घरेलू हाजिर बाजार में स्थानीय आभूषण और फुटकर विक्रेताओं की मांग कमजोर होने से भी कीमतें प्रभावित हुई। दिल्ली बाजार में  सोना 99.9 प्रतिशत और 99.5 प्रतिशत शुद्धता के भाव 275 रुपये की गिरावट के साथ क्रमश: 30,275 रुपये और 30,125 रुपये प्रति दस ग्राम रह गया। कल सोने में 50 रुपये की तेजी आई थी। हालांकि, गिन्नी का भाव 24,700 रुपये प्रति आठ ग्राम पर स्थिर रहा।

सोने की ही तरह चांदी हाजिर भाव 525 रुपये घटकर 39,925 रुपये और चांदी साप्ताहिक डिलिवरी 445 रुपये गिरकर 39,170 रुपये प्रति किलोग्राम रह गई। हालांकि, चांदी सिक्का लिवाल 74,000 रुपये और बिकवाल 75,000 रुपये प्रति सैकड़ा पर पूर्ववत बने रहे।

निफ्टी के 6 शेयरों ने छुई नई उंचाई, सेंसेक्स नए स्तर पर

ू

देश के शेयर बाजारों में शुक्रवार को मिला-जुला रुख रहा। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 10.09 अंकों की बढ़त के साथ 33,157.22 पर और निफ्टी 20.75 अंकों की मजबूती के साथ 10,323.05 पर बंद हुआ।

सुस्त कारोबार के बावजूद तिमाही नतीजों के मौसम में तीन निफ्टी स्टॉक्स ने अपना अब तक का उच्चतम स्तर छुआ और कुल मिलाकर 6 शेयर अडानी पोर्ट्स, मारुति सुजुकी, गेल, टाटा स्टाल और वेदांता ने अपना 52 हफ्ते के उच्च स्तर पर बंद हुए।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 81.19 अंकों की तेजी के साथ 33,228.32 पर खुला और 10.09 अंकों या 0.03 फीसदी की तेजी के साथ 33,157.22 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में सेंसेक्स ने 33,286.51 के ऊपरी और 33,109.41 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के मिडकैप और स्मॉलकैप सूचकांक में तेजी रही। बीएसई का मिडकैप सूचकांक 45.22 अंकों की तेजी के साथ 16,379.58 पर और स्मॉलकैप सूचकांक 46.90 अंकों की तेजी के साथ 17,303.66 पर बंद हुआ।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 18.5 अंकों की तेजी के साथ सुबह 10,362.30 पर खुला और 20.75 अंकों या 0.20 फीसदी की मजबूती के साथ 10,323.05 पर बंद हुआ। दिनभर के कारोबार में निफ्टी ने 10,366.15 के ऊपरी और 10,311.30 के निचले स्तर को छुआ।

बीएसई के 19 में से आठ सेक्टरों में गिरावट रही। स्वास्थ्य सेवाएं (1.61 फीसदी), वाहन (0.85 फीसदी), उद्योग (0.82 फीसदी), उपभोक्ता सेवाएं (0.52 फीसदी) और तेज खपत उपभोक्ता वस्तु (०.23 फीसदी) में सर्वाधिक तेजी रही।

बीएसई के गिरावट वाले शेयरों में दूरसंचार (5.06 फीसदी), ऊर्जा (1.57 फीसदी), तेल और गैस (1.16 फीसदी), बैंकिंग सेवाएं (0.82 फीसदी) और प्रौद्योगिकी (0.75 फीसदी) प्रमुख रहे।

Advertisements