बंदी की कगार पर पहुंचा शहर का कारोबार

कानपुर। औद्योगिक नगरी के उद्यमियों ने केन्द्र सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है, लेकिन 12 दिन बीतने के बाद अभी तक नकदी संकट होने से व्यवस्थाओं पर सवाल भी किए हैं। उद्यमियों ने कहा कि उद्योगो में कारोबार न होने के चलते उन्हें बैंको द्वारा लिए गए कर्ज के ब्याज का खतरा सता रहा है।

Advertisements